Saturday, 16 May 2020

कोरोना से ठीक होने के बाद भी 30 दिन तक ना करें ये काम वरना दोबारा...


नई दिल्ली : कोरोना वायरस (Covid 19) संक्रमण के ठीक होने के बाद भी खतरा पूरी तरह से टला नहीं है। ऐसे में ख़ास सावधानी बरतने की जरूरत है। अध्ययन में यह बात सामने आई कि कई कोरोना संक्रमित मरीज जो पूरी तरह से ठीक होकर हॉस्पिटल से घर जा चुके थे उनके स्पर्म में कोरोना वायरस मिले हैं। कोरोना (Coronavirus) संक्रमित पुरुषों के स्पर्म में भी वायरस पाया गया है।



स्पेशलिस्ट का इस सिलसिले में कहना है कि इस स्थिति में पुरुषों को अपनी साथी के साथ संबंध बनाने से बचना चाहिए। नहीं तो उसे भी कोरोना संक्रमण हो सकता है। क्योंकि कुछ केसेज में यह बात सामने आई है कि ठीक होने के बाद भी कुछ पुरुषों के स्पर्म के नमूनों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। ऐसे में सावधान रहने की जरूरत है। आजतक में छपी रिपोर्ट के अनुसार, कुछ एक्सपर्ट्स का तो यह तक कहना है कि अगर कोरोना का मरीज पूरी तरह से ठीक हो चुका हो इसके बाद भी कुछ समय तक उसे अपने साथी से उचित दूरी बनाकर रखनी चाहिए।

आजतक ने थाईलैंड के डिसीज कंट्रोल डिपार्टमेंट के एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से छापा है कि अगर कोरोना के इलाज के बाद आप ठीक भी हो चुके हैं तो सेक्स से परहेज करना जरूरी है। यहां तक कि साथी को किस करने से भी परहेज करें। वहीं चीन में हुए एक अध्ययन में यह वार्निंग दी गई है कि चीन में ठीक हो चुके मरीजों के स्पर्म में कोरोना वायरस मिले हैं। ऐसे में संबंध स्थापित करना अनसेफ है।

healthline ने छापा है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) बॉडी ड्रापलेट्स के जरिए और छींक या जुकाम के ड्रापलेट्स के जरिए फैलता है। ऐसे में सावधानी बरतना उचित है।  कि कोरोना संक्रमण ठीक होने के 30 दिन तक लोगों को अपने साथी को किस (Kiss) करने से भी बचना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि कुछ मामले ऐसे सामने आए हैं जिसमें इलाज से ठीक होने के बाद भी कुछ लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। अगर इलाज के एक महीने बाद भी आप साथी से संबंध स्थापित करते हैं तो कंडोम को इस्तेमाल करना ना भूलें।

चीन ने अध्ययन के तहत, 38 कोरोना मरीजों के स्पर्म के सैंपल लिए। इसमें से 15 तो हॉस्पिटल में ही थे और 23 ठीक होकर घर वापस जा चुके थे। टेस्ट में 6 लोगों के स्पर्म में कोरोना वायरस पाया गया और 2 स्वस्थ हो चुके लोगों के स्पर्म में भी कोरोना वायरस मिले हैं।

इस सिलसिले में JAMA ओपन नेटवर्क ने एक रिपोर्ट छपी है जिसके मुताबिक़, जांचकर्ता शिजी झांग ने कहा कि इस बात से पूरी तरह इनकार नहीं किया जा सकता है कि अगर कोरोना का मरीज पूरी तरह ठीक हो चुका है तब भी उससे संक्रमण का खतरा है।
loading...

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

0 comments :

Propller Push

© 2011-2014 Hamari Khabar. Designed by Bloggertheme9. Powered by Blogger.