Monday, 20 November 2017

क्या आप भी सहमत हो संबित पात्रा से?



अब किसी बीमारी का इलाज करना हो तो आपको सबसे पहले ये तो पता होना चाहिए की बीमारी है क्याहोगा टीबी और आप इलाज करोगे शुगर का तो बेडा गर्ग होना तो तय है, बींमारी और भी बढ़ती जाएगी इलाज नहीं होगा, और कश्मीर को लेकर तो स्तिथि और विकराल है।

सेकुलरिज्म के चक्कर में बीमारी को जानते हुए भी अज्ञान बनने का ढोंग किया जाता है, अच्छा एक बात बताइये, हरी सिंह ने सिर्फ कश्मीर को थोड़ी भारत में मिलाया था, जम्मू और लद्दाक को भी मिलाया था, पर समस्या सिर्फ कश्मीर में क्यों है, जम्मू में क्यों नहीं, अरे भैया समझते सब है, पर समझते हुए भी न समझने की एक्टिंग करते है, सिर्फ एक ही कारण है की समस्या कश्मीर में है जम्मू और लद्दाक में नहीं और वो है कट्टरपंथी इस्लाम, और यही बात आज ताल ठोक के कार्यक्रम में बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कही।

आये दिन कश्मीर समस्या पर डिबेट होती रहती है, रोज ही डिबेट होती  है,और डिबेट का कोई सलूशन नहीं निकलता क्यूंकि जो समस्या है उसपर तो कोई बात करने को ही तैयार नहीं, क्यूंकि फिर सेकुलरिज्म खतरे में पड़ जाता है।


बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने आज कार्यक्रम में कहा की, कश्मीर में कट्टरपंथी इस्लाम की समस्या है, इनको दारुल इस्लाम बनाना है, कश्मीर में कोई राजनितिक समस्या नहीं है, अगर राजनितिक समस्या होती तो आग जम्मू में भी लगी होती सिर्फ कश्मीर में नहीं, न ही कश्मीर में कोई आर्थिक या कश्मीरियत की समस्या है, कश्मीर में सिर्फ इस्लाम की समस्या है, और अब हमे सच बोलना शुरू कर देना चाहिए, वरना समस्या का समाधान कभी होगा ही नहीं।

Post source - dainik-bharat.org
loading...
हमारे Facebook पेज को फॉलो करे

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

0 comments :

© 2011-2014 Hamari Khabar. Designed by Bloggertheme9. Powered by Blogger.