Thursday, 2 November 2017

बड़ी कामयाबी - भारत ने लद्दाख में चीनी सीमा के पास बनाई दुनिया की सबसे ऊंची सड़क!



नई दिल्ली : सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने लद्दाख क्षेत्र में चीन सीमा के पास दुनिया की सबसे ऊंची सड़क बनाई है। यह सड़क 19,300 फुट से अधिक की ऊंचाई पर स्थित उमलिंगला टॉप से होकर गुजरती है। सड़क का निर्माण हिमांक परियोजना के तहत किया गया।

बीआरओ के एक प्रवक्ता ने बताया कि यह लेह से 230 किलोमीटर दूर हानले के पास स्थित है। चिसुमले और देमचक गांवों को जोड़ने वाली 86  किलोमीटर लंबी सड़क रणनीतिक महत्व की है। ये गांव पूर्वी क्षेत्र में भारत-चीन सीमा से महज कुछ ही दूरी पर स्थित हैं। इस कठिन काम के लिए परियोजना के चीफ इंजीनियर ब्रिगेडियर डीएम पुरवीमठ ने बीआरओ कर्मियों की सराहना करते हुए कहा कि इतनी अधिक ऊंचाई पर सड़क बनाना चुनौतियों से भरा हुआ था।

गर्मियों में यहां तापमान शून्य से 15-20 डिग्री सेल्सियस कम रहता है जबकि सर्दियों में यह शून्य से 40 डिग्री नीचे चला जाता है। इस ऊंचाई पर ऑक्सीजन की मात्रा सामान्य स्थानों से 50 फीसदी कम रहती है। 
पुरवीमठ ने कहा, मशीनों और मानव शक्ति की क्षमता विषम जलवायु और कम ऑक्सीजन के चलते सामान्य स्थानों पर 50 फीसदी कम हो जाती है।  साथ ही, मशीन ऑपरेटरों को ऑक्सीजन के लिए हर 10 मिनट पर नीचे आना होता है। ब्रिगेडियर ने कहा कि इतनी ऊंचाई पर उपकरणों का रखरखाव एक अन्य बड़ी चुनौती है।


बता दे की हिमांक परियोजना के अंतर्गत पहले ही 17,900 फीट ऊंचाई पर खारडांगू ला और 17,695 फीट की ऊंचाई पर लेह में सड़क बनाई जा चुकी हैं। इनसे नोबरा और दुर्बक घाटियों को जोड़ा गया है।
loading...

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

0 comments :

Propller Push

© 2011-2014 Hamari Khabar. Designed by Bloggertheme9. Powered by Blogger.