Friday, 27 October 2017

करोड़ों की संपत्ति गरीबों में बांटकर आज आम आदमी की जिंदगी जी रहे है नाना, कोई शेयर करेगा?



अपनी दमदार अदाकारी और डायलॉग डिलीवरी के लिए मशहूर नाना पाटेकर किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। तिरंगा, क्रांतिवीर और यशवंत जैसी देशभक्ति से भरपूर फिल्में करने वाले नाना आजकल अपनी समाजसेवा के चलते महाराष्ट्र में काफी चर्चा में हैं।

गत वर्ष लातूर में पड़े अकाल और उसके कारण आत्महत्या करने वाले किसानों के दुख दर्द को ध्यान में रखते हुए नाना पाटेकर ने एक फाउंडेशन बनाया है जिसके जरिए वो जरूरतमंद लोगों की मदद करते हैं।

नाना पाटेकर भारतीय फिल्‍मों के अभिनेता हैं। वे लेखक और फिल्‍म निर्माता भी हैं। नाना हिन्‍दी फिल्‍मों के मशहूर अभिनेता माने जाते हैं। उनके अभिनय के सभी कायल हैं और यही कारण है कि उन्‍हें आज तक कई बार राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कार और फिल्‍मफेयर पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया जा चुका हैा

उन्‍हें पद्मश्री सम्‍मान भी मिल चुका हैा वे इंडस्‍ट्री में अपने डॉयलाग को बोलने की स्‍टाइल को लेकर काफी मशहूर हैं। उनके अभिनय के दीवाने आपको हर आयु वर्ग में मिल जाएंगेा नाना का जन्‍म मुरूड-जंजीरा, रायगढ़, म‍हाराष्‍ट्र में हुआ थाा उनके पिता का नाम दिनकर पाटेकर और मां का नाम संजनाबाई पाटेकर हैा

# नाना पाटेकर महाराष्ट्र में सूखे की समस्या से सुसाइड करने वाले हर किसान को 15000 रूपए खुद जाकर दिये जिसमें लगभग 162 किसानों के परिवार शामिल थे।

# नाना की संस्था महाराष्ट्र के 700 से ज्यादा सुखा संभावित क्षेत्रों के लिए जलाशयों का निर्माण करवा रही है।

# नाना पाटेकर के फाउंडेशन ने आमिर खान की मदद से 22 करोड़ रुपए जुटाकर नदियों को आपस में जोड़ने की योजना बनाई है जिससे की लोगों को कम से कम पीने का पानी तो नसीब हो सके।

# अपने फाउंडेशन की स्थापना के पहले दिन ही नाना को लोगों ने 80 लाख दान दिए थे जोकि नाना के लिए एक बड़ी सफलता थी।


# अपने समाज कार्यों के बारे में मीडिया को संबोधित करते हुए नाना ने बताया की उन्हें मरते दम तक जीने की वजह मिल गई है। नाना पाटेकर ने अपनी 90% संपत्ति को दान में दे दिया है और वो खुद अपनी बुढ़ी मां के साथ 1 BHK मकान में रहते हैं। नाना जैसे लोग ही हिंदुस्तान के सच्चे वीर सपूत हैं जिन्हें दिल से हिरो मानने का मन करता है।
loading...
हमारे Facebook पेज को फॉलो करे

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

0 comments :

© 2011-2014 Hamari Khabar. Designed by Bloggertheme9. Powered by Blogger.