Friday, 28 October 2016

चीनी सामानों के बहिष्कार पर बोला चीन - हिंदुस्तान को ही उठाना होगा इसका खामियाज़ा!

नई दिल्ली : पाकिस्तान की ओर से लगातार हो रही आतंकवादी गतिविधियों पर चीन का पाकिस्तान को इस तरह खुला समर्थन भारत में चीनी सामानों पर भारी पड़ रहा है।



उरी हमले के बाद चीन ने मसूद अजहर जैसे आतंकवादियों का खुलकर समर्थन किया था, जिसके बाद से ही देश भर में लोग चीनी सामानों का बहिष्कार कर रहे हैं। यह शायद पहली बार है जब भारत में चीनी बाजार ठंडा पड़ा हुआ है। लोग चीनी सामान खरीदने से बच रहे हैं।

भारत में चीनी सामान के बहिष्कार के बाद चीन इतने गुस्से में आ गया है कि उसने भारत को धमकी तक दे डाली है। चीनी दूतावास ने बयान जारी करते हुए कहा, ‘चीन दुनिया का सबसे बड़ा निर्यातक देश है। भारत में कुल निर्यात का 2 फीसद हिस्सा ही जाता है।

इसलिए भारतीय बहिष्कार का अधिक असर नहीं होगा। चीन केवल इस बात को लेकर चिंतित है कि इससे चीनी इकाइयों की ओर से भारत में होने वाले निवेश पर बुरा असर पड़ेगा। साथ ही दोनों देशों के रिश्ते भी प्रभावित होंगे।

गौरतलब है कि पिछले 1 महीने से पूरे देश में चीन के सामान का बहिष्कार करने की मुहिम छिड़ी हुई है, लोग सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक पर प्रदर्शन कर रहे हैं और साथ ही बाकी लोगों से भी चीनी सामान का इस्तेमाल न करने की अपील कर रहे हैं। दूसरी तरफ इस विरोध से उन कुम्हारों को फायदा हो रहा है जिनकी रोजी-रोटी चीनी सामानों के चलते छिन गई थी।


महाराष्ट्र के जलगांव में व्यापारियों ने चीनी सामान की बिक्री नहीं करने का फैसला किया है। यहां दीवाली के मौके पर चीनी सामान का कारोबार लगभग 70 करोड रुपए का होता रहा है, लेकिन नुकसान की परवाह न करते हुए लोगों ने इस बार त्योहारों पर लोगों ने चीनी सामानों का बहिष्कार करने का फैसला किया है।
loading...
हमारे Facebook पेज को फॉलो करे

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

0 comments :

© 2011-2014 Hamari Khabar. Designed by Bloggertheme9. Powered by Blogger.