Wednesday, 18 October 2017

योगी ने भरी हुंकार सबके उड़े होश, क्या आप भी है योगीजी के साथ?



नई दिल्ली : फ़िलहाल ताजमहल को लेकर चर्चा का विषय बना हुआ है। आपको बतादे दो दिन पहले बीजेपी विधायक संगत सोम द्वारा ताजमहल को लेकर दिए गए अक्रामक बयान के बाद ताजमहल ही खबरों में छाया हुआ है। हर पार्टी इस मुद्दे पर बीजेपी को घेरने की कोशिश कर रही है।

इतना ही नहीं आपको ये भी बतादे कि ये पहली बार नहीं है जब उत्तर प्रदेश में बीजेपी के किसी नेता ने ताजमहल को लेकर इस तरह का बयान दिया हो। करीब 8 महीने पहले उत्तर प्रदेश चुनाव के समय भी एक टीवी शो पर चर्चा करते हुए योगी आदित्यनाथ ने भी ताजमहल का नाम बदले की बात कही थी। हालांकि तब वो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं बने थे।

आगे उन्होंने गोरखपुर में मोहल्लों के नाम बदलने पर जवाब देते हुए कहा था कि हमने किया है हुमायूंपुर को हनुमानपुर किया है। और भी करेंगे जो हमारे अनुकुल होगा वो करेंगे। इसके बाद योगी ने कहा कि अगर किसी विदेशी आक्रांता के द्वारा कोई ऐसा काम किया है तो ऐसा किया जाना चाहिए। 

इसके बाद जब पत्रकार ने उनसे कहा कि फिर आप ताजमहल को राम महल भी कर सकते हैं तो योगी बोले की क्यों नहीं करेंगे.


 उन्होंने इस मुदेदे पर बोलते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मायने नहीं रखता कि ताजमहल को किसने और क्यों बनवाया। ताजमहल एक ऐतिहासिक धरोहर है। भाजपा नेता संगीत सोम के ताजमहल पर दिए गए विवादास्पद बयान के बाद मुख्यमंत्री योगी की यह टिप्पणी आई है। मुख्यमंत्री ने गोरखपुर में कहा, ‘यह मायने नहीं रखता कि ताज महल को किसने और क्यों बनवाया।

देखें विडियो....



नई दिल्ली : फ़िलहाल ताजमहल को लेकर चर्चा का विषय बना हुआ है। आपको बतादे दो दिन पहले बीजेपी विधायक संगत सोम द्वारा ताजमहल को लेकर दिए गए अक्रामक बयान के बाद ताजमहल ही खबरों में छाया हुआ है। हर पार्टी इस मुद्दे पर बीजेपी को घेरने की कोशिश कर रही है।

इतना ही नहीं आपको ये भी बतादे कि ये पहली बार नहीं है जब उत्तर प्रदेश में बीजेपी के किसी नेता ने ताजमहल को लेकर इस तरह का बयान दिया हो। करीब 8 महीने पहले उत्तर प्रदेश चुनाव के समय भी एक टीवी शो पर चर्चा करते हुए योगी आदित्यनाथ ने भी ताजमहल का नाम बदले की बात कही थी। हालांकि तब वो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं बने थे।

आगे उन्होंने गोरखपुर में मोहल्लों के नाम बदलने पर जवाब देते हुए कहा था कि हमने किया है हुमायूंपुर को हनुमानपुर किया है। और भी करेंगे जो हमारे अनुकुल होगा वो करेंगे। इसके बाद योगी ने कहा कि अगर किसी विदेशी आक्रांता के द्वारा कोई ऐसा काम किया है तो ऐसा किया जाना चाहिए। 

इसके बाद जब पत्रकार ने उनसे कहा कि फिर आप ताजमहल को राम महल भी कर सकते हैं तो योगी बोले की क्यों नहीं करेंगे.


 उन्होंने इस मुदेदे पर बोलते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मायने नहीं रखता कि ताजमहल को किसने और क्यों बनवाया। ताजमहल एक ऐतिहासिक धरोहर है। भाजपा नेता संगीत सोम के ताजमहल पर दिए गए विवादास्पद बयान के बाद मुख्यमंत्री योगी की यह टिप्पणी आई है। मुख्यमंत्री ने गोरखपुर में कहा, ‘यह मायने नहीं रखता कि ताज महल को किसने और क्यों बनवाया।

देखें विडियो....

हमारे Facebook पेज को फॉलो करे

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

ऑनलाइन सर्वे में आया ऐसा रिजल्ट, विपक्ष के उड़े होश, वोट करने के क्लिक करे!



नई दिल्ली : आजकल सोशल मीडिया पर ही कई बातों का फैसला लगभग हो जाता है वो चाहे कोई विडियो वायरल हो या कुछ और अगर कोई गंभीर मामला होता है तो उसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करके पूरी दुनिया के सामने लेकर आने पर उस मामले पर करवाई करने पर मजबूर कर दिया जाता है।

ठीक ऐसे ही जैसा की हम हमेशा देखते है की सोशल मीडिया पर लोग अब भी BJP के लिए भरपूर समर्थन कर रहे है। एक ऑनलाइन सर्वे के मुताबिक सोशल मडिया पर 100 लोगों में से 85 ने अब भी आने वाले समय में वोट और समर्थन के लिए BJP को ही चुना है।




नई दिल्ली : आजकल सोशल मीडिया पर ही कई बातों का फैसला लगभग हो जाता है वो चाहे कोई विडियो वायरल हो या कुछ और अगर कोई गंभीर मामला होता है तो उसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करके पूरी दुनिया के सामने लेकर आने पर उस मामले पर करवाई करने पर मजबूर कर दिया जाता है।

ठीक ऐसे ही जैसा की हम हमेशा देखते है की सोशल मीडिया पर लोग अब भी BJP के लिए भरपूर समर्थन कर रहे है। एक ऑनलाइन सर्वे के मुताबिक सोशल मडिया पर 100 लोगों में से 85 ने अब भी आने वाले समय में वोट और समर्थन के लिए BJP को ही चुना है।


हमारे Facebook पेज को फॉलो करे

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

ममता बनर्जी जन्म से विद्रोही हैं, उनकी अनदेखी करना असंभव : प्रणब मुखर्जी



नई दिल्ली : हाल ही में पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने अपनी नई किताब द कोएलिशन ईयर्सकी लांचिंग की है। किताब में प्रणब दा ने अपने राजनीतिक जीवन से जुड़े कई बातों का जिक्र किया है।

इन्हीं में से एक बात का जिक्र करते हुए उन्होंने ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को जन्मजात विद्रोहीकरार दिया। उन्होंने ने उन पलों का जिक्र करते हुए कहा कि एक बैठक में वह सनसनाती हुई बाहर चली गई थीं और वो खुद को कितना अपमानित और बेइज्जत महसूस कर रहे थे।

प्रणब दा ने किताब में ममता बनर्जी के व्यक्तित्व की उस आभा का जिक्र किया है जिसका विवरण कर पाना मुश्किल और अनदेखी करना असंभव है। पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि ममता ने निडर और आक्रामक रूप से अपना रास्ता बनाया और यह उनके खुद के संघर्ष का परिणामथा।


उन्होंने लिखा, ‘‘ममता बनर्जी जन्मजात विद्रोही हैं।’’ उनकी इस विशेषता को वर्ष 1992 में पश्चिम बंगाल कांग्रेस के संगठनात्मक चुनाव के एक प्रकरण से बेहतर समझा जा सकता है जिसमें वह हार गई थीं।



नई दिल्ली : हाल ही में पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने अपनी नई किताब द कोएलिशन ईयर्सकी लांचिंग की है। किताब में प्रणब दा ने अपने राजनीतिक जीवन से जुड़े कई बातों का जिक्र किया है।

इन्हीं में से एक बात का जिक्र करते हुए उन्होंने ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को जन्मजात विद्रोहीकरार दिया। उन्होंने ने उन पलों का जिक्र करते हुए कहा कि एक बैठक में वह सनसनाती हुई बाहर चली गई थीं और वो खुद को कितना अपमानित और बेइज्जत महसूस कर रहे थे।

प्रणब दा ने किताब में ममता बनर्जी के व्यक्तित्व की उस आभा का जिक्र किया है जिसका विवरण कर पाना मुश्किल और अनदेखी करना असंभव है। पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि ममता ने निडर और आक्रामक रूप से अपना रास्ता बनाया और यह उनके खुद के संघर्ष का परिणामथा।


उन्होंने लिखा, ‘‘ममता बनर्जी जन्मजात विद्रोही हैं।’’ उनकी इस विशेषता को वर्ष 1992 में पश्चिम बंगाल कांग्रेस के संगठनात्मक चुनाव के एक प्रकरण से बेहतर समझा जा सकता है जिसमें वह हार गई थीं।
हमारे Facebook पेज को फॉलो करे

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

हे भगवान - महज Iphone पाने के लिए इस हद तक गिरने लग गयी लड़कियां, देखें!



नई दिल्ली : आईफोन की दीवानगी ऐसी है कि चीन में एक लड़की आईफोन-8 के लिए अपनी वर्जिनिटी बेचने को तैयार हो गई। उसे खरीदार भी मिल गया साथ ही इस लड़की को ऐसा सबक मिला कि वो शायद ही जीवन में कभी भूल पाए।

दरअसल हुआ ये कि 17 वर्षीय इस लड़की ने आईफोन खरीदने के लिए अपनी वर्जिनिटी बेचने का ऐड दिया। लड़की के अनुसार वो अपनी सहेलियों के हाथ में महंगे और लेटेस्ट स्मार्टफोन्स देख परेशान हो जाती थी। अपनी सहेलियों के बीच आईफोन-8 खरीदकर धौंस दिखाने के लिए ही लड़की ने ये कदम उठाया।

इसके बाद जियो चेन नाम की इस लड़की ने एक ऑनलाइन फोरम में अपनी वर्जिनिटी बेचने की कीमत 2284 पौंड लगाई। जियो चेन ने शर्त रखी थी कि उसे यह राशि नकद चाहिए। जियो चेन के इस ऐड पर नजर पड़ी राजधानी बीजींग के रहने वाले एक ब्लॉगर की।


ऐड देखने के बाद नाना नाम के इस ब्लॉगर ने लड़की को इस तरह की बेवकूफी के लिए सबक सिखाने की ठान ली। उसके बाद नाना जियो चेन से ग्राहक बनकर संपर्क किया और कहा कि वह वर्जिनिटी खरीदने को तैयार है।



नई दिल्ली : आईफोन की दीवानगी ऐसी है कि चीन में एक लड़की आईफोन-8 के लिए अपनी वर्जिनिटी बेचने को तैयार हो गई। उसे खरीदार भी मिल गया साथ ही इस लड़की को ऐसा सबक मिला कि वो शायद ही जीवन में कभी भूल पाए।

दरअसल हुआ ये कि 17 वर्षीय इस लड़की ने आईफोन खरीदने के लिए अपनी वर्जिनिटी बेचने का ऐड दिया। लड़की के अनुसार वो अपनी सहेलियों के हाथ में महंगे और लेटेस्ट स्मार्टफोन्स देख परेशान हो जाती थी। अपनी सहेलियों के बीच आईफोन-8 खरीदकर धौंस दिखाने के लिए ही लड़की ने ये कदम उठाया।

इसके बाद जियो चेन नाम की इस लड़की ने एक ऑनलाइन फोरम में अपनी वर्जिनिटी बेचने की कीमत 2284 पौंड लगाई। जियो चेन ने शर्त रखी थी कि उसे यह राशि नकद चाहिए। जियो चेन के इस ऐड पर नजर पड़ी राजधानी बीजींग के रहने वाले एक ब्लॉगर की।


ऐड देखने के बाद नाना नाम के इस ब्लॉगर ने लड़की को इस तरह की बेवकूफी के लिए सबक सिखाने की ठान ली। उसके बाद नाना जियो चेन से ग्राहक बनकर संपर्क किया और कहा कि वह वर्जिनिटी खरीदने को तैयार है।
हमारे Facebook पेज को फॉलो करे

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

Tuesday, 17 October 2017

शर्मनाक ! आधार लिंक न होने से राशन नहीं मिला, भूख से बच्ची की मौत!



नई दिल्ली : झारखंड के सिमडेगा से एक बेहद हैरान करने वाली ख़बर सामने आई है। जहां 8 दिनों से भूखी 11 साल की एक बच्ची की मौत हो गई। स्थानीय राशन डीलर ने महीनों पहले उसके परिवार का राशन कार्ड रद्द करते हुए अनाज देने से इनकार कर दिया था। राशन डीलर की दलील थी कि राशन कार्ड आधार नंबर से लिंक नहीं है। रूह कंपा देने वाली इस खबर को सुनकर हर कोई हैरान है।

मिली जानकारी के अनुसार संतोषी कुमारी नाम की इस लड़की ने 8 दिन से खाना नहीं खाया था, जिसके चलते बीते 28 सितंबर को भूख से उसकी मौत हो गई। परिवार को पीडीएस स्कीम के तहत गरीबों को मिलने वाला राशन पिछले कई महीनों से नहीं मिल पा रहा था।

संतोषी की मां कोयली देवी ने बताया कि 28 सितंबर की दोपहर संतोषी ने पेट दर्द होने की शिकायत की। गांव के वैद्य ने कहा कि इसको भूख लगी है। खाना खिला दो, ठीक हो जाएगी। मेरे घर में चावल का एक दाना नहीं था।इधर संतोषी भी भात-भात कहकर रोने लगी थी। उसका हाथ-पैर अकड़ने लगा। शाम हुई तो मैंने घर में रखी चायपत्ती और नमक मिलाकर चाय बनायी। संतोषी को पिलाने की कोशिश की। लेकिन, वह भूख से छटपटा रही थी। देखते ही देखते उसने दम तोड़ दिया।

इस मामले में राज्य के फूड अौर सिविल सप्लाई मंत्री ने कहा कि  साफ निर्देश दिए गए हैं कि जिनका आधार राशन कार्ड से लिंक न हो उन्हें राशन देने से मना नहीं किया जा सकता। हालांकि जलडेगा ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर संजय कुमार कोंगारी भूख की मौत से इंकार कर रहे हैं। उनके मुताबिक लड़की की मौत मलेरिया से हुई है। मगर वो इस बात को मान रहे हैं कि लड़की के परिवार का नाम आधार से लिंक नहीं होने की वजह से पीडीएस के लाभार्थियों की सूची से बाहर कर दिया गया था।

भूख से मरने वाली संतोषी की आर्थिक स्थिति का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि स्कूल के मिड-डे मील से उसके दोपहर के खाने का इंतजाम होता था। मगर दुर्गा पूजा की छुट्टियां होने की वजह से स्कूल बंद था और इस वजह से उसे कई दिन भूखा रहना पड़ा। जिसकी वजह से उसकी जान चली गई।

बीपीएल रेखा से नीचे रहने वाले संतोषी के परिवार के पास कोई नौकरी नहीं है, न ही इनके स्थायी आमदनी का कोई जरिया है, जिसके कारण परिवार पूरी तरह सरकारी राशन पर ही निर्भर था। संतोषी के पिता मानसिक तौर पर बीमार हैं जबकि उसकी मां और बहन दोनों मजदूरी कर के एक दिन में मुश्किल से 90 रुपए तक कमा पाती हैं। संतोषी का परिवार बड़ी मुश्किल से किसी तरह घर का खर्चा चला रहा था लेकिन पिछले कुछ दिनों से किसी ने कुछ नहीं खाया था।


पाठकों को बता दे की ग्लोबल हंडर इंडेक्स रिपोर्ट के मुताबिक भुखमरी के मामलों में भारत की स्थिति और चिंताजनक बताई गई है। रिपोर्ट पर यदि हम भरोसा करें तो भारत 97 नम्बर पर खिसक कर आ गया है। साथ ही भूखमरी के मामले में भारत को खतरनाक देशों की श्रेणी में रखा गया है। हालांकि पिछले छः सालों में बच्चों में वेस्टेड यानी बेहद कमजोर होने की दर में गिरावट जरूर आई है। 

यहां भी ब्रिस्क देशों की तुलना में भारत की स्थिति नाजुक बनी हुई है। आंकड़ों पर भरोसा करे तो 5 साल से कम उम्र के बच्चों की मौत का आंकड़ा उच्च आय वाले देशों की तुलना में 7 गुना ज्यादा बताया गया है।  अकेले भारत में वर्ष 2015 में 1.2 मिलियन मौतें हुईं हैं जो अपने आप हैरान कर देने वाले आंकड़े हैं।



नई दिल्ली : झारखंड के सिमडेगा से एक बेहद हैरान करने वाली ख़बर सामने आई है। जहां 8 दिनों से भूखी 11 साल की एक बच्ची की मौत हो गई। स्थानीय राशन डीलर ने महीनों पहले उसके परिवार का राशन कार्ड रद्द करते हुए अनाज देने से इनकार कर दिया था। राशन डीलर की दलील थी कि राशन कार्ड आधार नंबर से लिंक नहीं है। रूह कंपा देने वाली इस खबर को सुनकर हर कोई हैरान है।

मिली जानकारी के अनुसार संतोषी कुमारी नाम की इस लड़की ने 8 दिन से खाना नहीं खाया था, जिसके चलते बीते 28 सितंबर को भूख से उसकी मौत हो गई। परिवार को पीडीएस स्कीम के तहत गरीबों को मिलने वाला राशन पिछले कई महीनों से नहीं मिल पा रहा था।

संतोषी की मां कोयली देवी ने बताया कि 28 सितंबर की दोपहर संतोषी ने पेट दर्द होने की शिकायत की। गांव के वैद्य ने कहा कि इसको भूख लगी है। खाना खिला दो, ठीक हो जाएगी। मेरे घर में चावल का एक दाना नहीं था।इधर संतोषी भी भात-भात कहकर रोने लगी थी। उसका हाथ-पैर अकड़ने लगा। शाम हुई तो मैंने घर में रखी चायपत्ती और नमक मिलाकर चाय बनायी। संतोषी को पिलाने की कोशिश की। लेकिन, वह भूख से छटपटा रही थी। देखते ही देखते उसने दम तोड़ दिया।

इस मामले में राज्य के फूड अौर सिविल सप्लाई मंत्री ने कहा कि  साफ निर्देश दिए गए हैं कि जिनका आधार राशन कार्ड से लिंक न हो उन्हें राशन देने से मना नहीं किया जा सकता। हालांकि जलडेगा ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर संजय कुमार कोंगारी भूख की मौत से इंकार कर रहे हैं। उनके मुताबिक लड़की की मौत मलेरिया से हुई है। मगर वो इस बात को मान रहे हैं कि लड़की के परिवार का नाम आधार से लिंक नहीं होने की वजह से पीडीएस के लाभार्थियों की सूची से बाहर कर दिया गया था।

भूख से मरने वाली संतोषी की आर्थिक स्थिति का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि स्कूल के मिड-डे मील से उसके दोपहर के खाने का इंतजाम होता था। मगर दुर्गा पूजा की छुट्टियां होने की वजह से स्कूल बंद था और इस वजह से उसे कई दिन भूखा रहना पड़ा। जिसकी वजह से उसकी जान चली गई।

बीपीएल रेखा से नीचे रहने वाले संतोषी के परिवार के पास कोई नौकरी नहीं है, न ही इनके स्थायी आमदनी का कोई जरिया है, जिसके कारण परिवार पूरी तरह सरकारी राशन पर ही निर्भर था। संतोषी के पिता मानसिक तौर पर बीमार हैं जबकि उसकी मां और बहन दोनों मजदूरी कर के एक दिन में मुश्किल से 90 रुपए तक कमा पाती हैं। संतोषी का परिवार बड़ी मुश्किल से किसी तरह घर का खर्चा चला रहा था लेकिन पिछले कुछ दिनों से किसी ने कुछ नहीं खाया था।


पाठकों को बता दे की ग्लोबल हंडर इंडेक्स रिपोर्ट के मुताबिक भुखमरी के मामलों में भारत की स्थिति और चिंताजनक बताई गई है। रिपोर्ट पर यदि हम भरोसा करें तो भारत 97 नम्बर पर खिसक कर आ गया है। साथ ही भूखमरी के मामले में भारत को खतरनाक देशों की श्रेणी में रखा गया है। हालांकि पिछले छः सालों में बच्चों में वेस्टेड यानी बेहद कमजोर होने की दर में गिरावट जरूर आई है। 

यहां भी ब्रिस्क देशों की तुलना में भारत की स्थिति नाजुक बनी हुई है। आंकड़ों पर भरोसा करे तो 5 साल से कम उम्र के बच्चों की मौत का आंकड़ा उच्च आय वाले देशों की तुलना में 7 गुना ज्यादा बताया गया है।  अकेले भारत में वर्ष 2015 में 1.2 मिलियन मौतें हुईं हैं जो अपने आप हैरान कर देने वाले आंकड़े हैं।
हमारे Facebook पेज को फॉलो करे

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

Airtel का धमाकेदार ऑफर - केवल 7,777 रु. दिजीये आईफोन 7 ले जाईये, जल्दी करे!



नई दिल्ली : प्रमुख टेलिकॉम सर्विस प्रवाइडर एयरटेल ने सोमवार को ऑनलाइन स्टोर लॉन्च करने की घोषणा की, जिसपर सबसे पहले आईफोन 7 तथा आईफोन 7 प्लस लॉन्च किए गए। इनकी कीमत 7777 रुपये (डाउनपेमेंट) से शुरू होगी।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि आईफोन 7 (32 जीबी) मात्र 7777 रुपये के डाउनपेमेंट और 2499 रुपये की 24 मासिक किश्तों पर उपलब्ध है। इस मासिक किश्त के साथ एक बिल्ट-इन हाई-एंड पोस्टपेड प्लान भी शामिल है. 

जो 30GB डेटा, अनलिमिटेड कॉलिंग (लोकल, एसटीडी , नैशनल रोमिंग) देता है तथा इसके साथ एयरटेल सिक्यॉर पैकेज भी दिया जाएगा, जो डिवाइस के फिजिकल डैमेज को कवर करने के साथ साथ साइबर प्रोटेक्शन भी प्रदान करेगा।


इस बयान में कहा गया कंपनी के ऑनलाइन स्टोर पर किफायती डाउन पेमेंट्स, तत्काल क्रेडिट वेरिफिकेशन और फाइनैंसिंग तथा बण्डल्ड मंथली प्लान्स के साथ प्रीमियम स्मार्टफोन्स की रेंज उतारी जाएगी।



नई दिल्ली : प्रमुख टेलिकॉम सर्विस प्रवाइडर एयरटेल ने सोमवार को ऑनलाइन स्टोर लॉन्च करने की घोषणा की, जिसपर सबसे पहले आईफोन 7 तथा आईफोन 7 प्लस लॉन्च किए गए। इनकी कीमत 7777 रुपये (डाउनपेमेंट) से शुरू होगी।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि आईफोन 7 (32 जीबी) मात्र 7777 रुपये के डाउनपेमेंट और 2499 रुपये की 24 मासिक किश्तों पर उपलब्ध है। इस मासिक किश्त के साथ एक बिल्ट-इन हाई-एंड पोस्टपेड प्लान भी शामिल है. 

जो 30GB डेटा, अनलिमिटेड कॉलिंग (लोकल, एसटीडी , नैशनल रोमिंग) देता है तथा इसके साथ एयरटेल सिक्यॉर पैकेज भी दिया जाएगा, जो डिवाइस के फिजिकल डैमेज को कवर करने के साथ साथ साइबर प्रोटेक्शन भी प्रदान करेगा।


इस बयान में कहा गया कंपनी के ऑनलाइन स्टोर पर किफायती डाउन पेमेंट्स, तत्काल क्रेडिट वेरिफिकेशन और फाइनैंसिंग तथा बण्डल्ड मंथली प्लान्स के साथ प्रीमियम स्मार्टफोन्स की रेंज उतारी जाएगी।
हमारे Facebook पेज को फॉलो करे

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

पंजाब : RSS कार्यकर्ता की सरेआम गोली मारकर हत्या!



नई दिल्ली : लुधियाना में मंगलवार सुबह राष्ट्र स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के कार्यकर्ता की गोली मार हत्या करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा ह कि हमलावर बाइक में आए थे।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार सुबह आरएसएस की शाखा में शामिल होने के बाद 60 वर्षीय रविंदर गोसाईं घर जा रहे थे।

जब वह घर के पास पहुंचे थे तो बाइक सवार हमलावरों ने ताबड़तोड़ गोलियां चलानी शुरू कर दी। इसके बाद उन्हें पास के अस्पताल में ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।


वारदात की जानकारी मिलने के बाद पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई है और बदमाशों की तलाश कर रही है। हालांकि अभी हमलावरों के बारे में कुछ पता नहीं चल सका है।



नई दिल्ली : लुधियाना में मंगलवार सुबह राष्ट्र स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के कार्यकर्ता की गोली मार हत्या करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा ह कि हमलावर बाइक में आए थे।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार सुबह आरएसएस की शाखा में शामिल होने के बाद 60 वर्षीय रविंदर गोसाईं घर जा रहे थे।

जब वह घर के पास पहुंचे थे तो बाइक सवार हमलावरों ने ताबड़तोड़ गोलियां चलानी शुरू कर दी। इसके बाद उन्हें पास के अस्पताल में ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।


वारदात की जानकारी मिलने के बाद पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई है और बदमाशों की तलाश कर रही है। हालांकि अभी हमलावरों के बारे में कुछ पता नहीं चल सका है।
हमारे Facebook पेज को फॉलो करे

Source : rajsthan patrika, samaya live, ndtv, news18 hindi, navbharat times, jagran, nai dunia, live hindustan, jansatta

Read This :

loading...

© 2011-2014 Hamari Khabar. Designed by Bloggertheme9. Powered by Blogger.